वेबसाइट कैसे बनाये जाते है: वेबसाइट बनाने का तरीका हिंदी में

तो जब आप ये समझ गए है की आपको वेबसाइट क्यों बनाना चाहिए तब, आपका अगला सवाल ये होगा की अब हम अपनी वेबसाइट कैसे बनाये? ये बहुत ही वाजिब सवाल है। टेक्नोलॉजी ने आज इतनी तरक्की कर लिया है की बहुत से काम हमारे आसान हो गये है। वेबसाइट बनाने के भी अलग-अलग तरीका हमें मिला है। कौन सा तरीका आपके लिए सही होगा ये आपको ही चुनना होगा। तो आइये जाने वो कौन-कौन से तरीके या विधि है जिनसे एक बढ़िया वेबसाइट बनाया जा सकता है।

वेबसाइट कैसे बनाये जाते है

वेबसाइट कैसे बनाये जाते है: वेबसाइट बनाने का तरीका हिंदी में

सबसे शुरुवाती चरण में आपके पास दो विकल्प है, वेबसाइट बनाने के लिए। पहला तो की वेबसाइट बनाने का काम आप किसी वेबसाइट डिज़ाइनर को देके खुद कांटा लेके नदी में मछली पकड़ने जा सकते हैं। दूसरा ये की खुद ही टूलबॉक्स लेके वेबसाइट बनाने लग जाये।

अगर आप किसी वेबसाइट डिज़ाइनर को ये काम सौपते है, तब तो आपको फिकर करने की कोई जरुरत नही की आपकी वेबसाइट कैसे बनाये हैं बस आपको अपने रिक्वायरमेंट्स बताने है और एक बण्डल फीस देनी है फिर बाकि काम डिज़ाइनर कर देगा। अगर आप ये बण्डल नही देना चाहते है या फिर खुद ये एडवेंचर करना चाहते है तब आप वेबसाइट बनाने के इन अलग-अलग तरीको में से कोई भी तरीका अपना सकते है

१. ब्लॉग प्लेटफ़ॉर्म:

इन्टरनेट में ऐसे बहुत से प्लेटफ़ॉर्म/वेबसाइट है जो हमें पर्सनल ब्लॉग बनाने देती है यहाँ पर आपको वेबसाइट और ब्लॉग के बीच कंफ्यूज होने की जरुर नही है अगर आप जो वेबसाइट बनाना चाहते है वो एक ब्लॉग है, तो ये आप्शन आपके लिए बढ़िया हो सकता है इसमें कोई टेक्निकल नॉलेज की जरुरत नही होती। ना पैसे खर्च करने की (अगर कोई कस्टम डोमेन नही चाहिए तब) बस इन प्लेटफ़ॉर्म में अपना अकाउंट बनाये अपने ब्लॉग का यूआरएल चुने और कुछ ही मिनटों में आपका ब्लॉग तैयार हो जायेगा। इन्टरनेट में एंट्री मारने को तैयार।

कुछ ब्लॉग प्लेटफ़ॉर्म है:

2. वेबसाइट बिल्डर्स:

नाम के अनुसार ये ड्रैग एंड ड्राप (खिंचे और छोड़े) वेबसाइट बनाने के ऑनलाइन टूल होते है अगर आप कोई डिज़ाइनर हायर नही करना चाहते है और एक बढ़िया वेबसाइट बनाना चाहते है, तब ये आप्शन आपके लिए सही रहेगा। मार्किट में बहुत सारे वेबसाइट बिल्डर्स उपलब्ध है कुछ फ्री है और कुछ सर्विस के हिसाब से चार्ज लेते है। इन्हें उपयोग करने के लिए ज्यादा टेक्निकल नॉलेज की जरुरत नही होती है बस किसी वेबसाइट बिल्डर में अकाउंट बनाये, अपना प्रोजेक्ट/वेबसाइट शुरू करे और विसुअल ड्रैग एंड ड्राप से वेबसाइट बनाये।

कुछ वेबसाइट बिल्डर्स:

३. कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS सॉफ्टवेयर):

ये तरीका आजकल सबसे ज्यादा प्रचलित और सबसे बेहतर है। यहाँ तक की ये वेबसाइट “वेबसाइटबनाओ डॉट इन” भी इसी तरीके से बना है। अगर आप खुद वेबसाइट बना रहे है तो आपको थोडा समय, थोडा पैसा और बहुत थोड़ी टेक्निकल नॉलेज की भी जरुँत पड़ेगी। आपके वेबसाइट का पूरा कण्ट्रोल आपके पास रहेगा। आपको दो चीजे होस्टिंग और डोमेन खरीदना पड़ेगा। उसके बाद होस्टिंग में कोई भी एक CMS सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करना होगा। फिर इन सॉफ्टवेर के मदद से वेबसाइट बनाना और मैनेज करना बहुत आसान होता है।

कुछ CMS सॉफ्टवेर है:

४. होस्टिंग और कोडिंग:

पिछले तरीके की तरह इस तरीके में भी पूरा कण्ट्रोल आपके हाथ में रहेगा। आपको डोमेन और होस्टिंग भी खरीदना पड़ेगा। और सबसे ख़तरनाक बात, पुरे वेबसाइट की कोडिंग आपको ही करनी पड़ेगी। इसलिए इसके लिए आपको प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज की पूरी जानकारी होनी चाहिए। मतलब फुल टेक्निकल नॉलेज। ये सबसे एडवांस तरीका है लेकिन अधिकतर लोग इसका उपयोग नही करते। कोडिंग के लिए भी आप कुछ सॉफ्टवेर उपयोग कर सकते है जैसे की:

इनके अलावा भी कोई और आसान या मुश्किल तरीका अगर आप जानते हो जो हमें बताये की वेबसाइट कैसे बनाये जाते है। तो मुझे जरुर बताये। वैसे आपको इनमे से कौन सा तरीका बेहतर लगा?

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *